17 सितंबर 1950 मैं जन्मे नरेंद्र दामोदर दास मोदी एक ऐसे शख्स का नाम है जिस पर उपन्यास लिखा जाना भी बहुत छोटी बात होगी । परंतु सरल शब्दों में लिखो तो अंग्रेजी की यह कहावत एकदम सटीक बैठेगी ।

” You can love him or you can hate him , but you cannot ignore him”

अंग्रेजी में यह कहावत अगर किसी व्यक्ति पर कही जाए तो यकीन मानिए कि व्यक्ति मैं कुछ बात है और काफी प्रभावशाली है । 26 मई 2014 को भारत के 14 वें प्रधानमंत्री के रूप में श्री नरेंद्र मोदी ने देश में एक नवचेतना निर्माण किया है । “सबका साथ सबका विकास” देने वाले नरेंद्र मोदी जी के गुड गवर्नेंस की कुछ महत्वपूर्ण बातें हम बताते हैं ।

1) आज देश का प्रधानमंत्री अपने आपको PM ना कहकर प्रधान सेवक कह रहा है, यह कथन ही जनता और सरकार के बीच दूरी कम करने के एहसास दिलाने के बराबर हो जाती है ।

2) नक्सलवाद आतंकवाद भ्रष्टाचार प्रांतवाद एवं जातिवाद जैसे कठिन समस्याओं का निवारण करने हेतु सही इरादे से सही कदम उठाए जा रहे हैं, देश के हर वर्ग में राष्ट्रवाद की एक नई ऊर्जा पैदा हुई है, यह ऊर्जा का कारण माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी है ।

3) कश्मीर समस्या हो या डोकलाम विवाद. भारत को अंतरराष्ट्रीय रूप पर एक बड़ी सफलता मिली है । जो लोग माननीय नरेंद्र मोदी की विदेश दौरे पर हंसी उड़ाते थे, आज उनका मुंह बंद हो गया है । यकीन मानिए आज भारत की विदेश नीति सबसे मजबूत है ।

4) देश विदेश दौरे करने वाले माननीय मोदी जी ने भारतीय परंपरा एवं हिंदू संस्कृति को बखूबी दर्शाया ।

5) स्वच्छ भारत जैसी योजना का प्रारंभ करके मोदी जी ने स्वच्छ एवं शुद्ध वातावरण निर्माण की ओर प्रबल कदम उठाए जाने पर जोर डाला है, 15 अगस्त 2014 को लाल किले से ऐसा पहली बार हुआ है कि किसी प्रधानमंत्री ने हर घर में स्वच्छता एवं हर घर में शौचालय जैसी जमीनी बात पर जोर डाला एवं हर घर में शौचालय पहुंचाने का सरकारी योजना भी लागू करवा दिया है ।

6) यह मोदी जी की करिश्माई नेतृत्व का कमाल ही है कि भारतीय जनता पार्टी आज अपने राजनीतिक चरम पर है । देश विदेश में भारत का गौरव और मोदी जी का परचम लहरा रहा है । मैंने पहले भी यह कहा था कि लिखने के लिए उपन्यास भी कम पड़ जाएगा । 16 से 18 घंटे तक काम करने वाले मोदी जी एक ऐसे व्यक्ति हैं जिससे कोई भी प्रभावित हो जाए । महादेव की कृपा सदेव भारत भूमि पर बनी रहे एवं नरेंद्र मोदी जी के पर उनकी कृपा हो ।