दो बच्चो की माँ आतिया को शौहर ने कागज पर लिखकर तलाक़ दिया था, लेकिन वह हारी नहीं और अपने अधिकारों की लड़ाई लड़ने के लिए निकल पड़ी।

सहारनपुर निवासी मजहर हसन की बेटी अतिया साबरी का निकाह पांच साल पहले हरिद्धार, लक्सर के वाजिद से हुआ था। उसकी दो बेटियां शाजिया (चार वर्ष) और सना (दो वर्ष) है। शादी के दो साल बाद ही बेटी पैदा होने और दहेज़ न लाने के लिए उसे ससुराल में प्रताड़ना दी जाने लगी तो उसने आवाज़ उठाई।  12 दिसंबर 2015 को कोतवाली मंडी में उसने दहेज़ उत्पीड़न का मुकदमा लिखाया।

जनवरी 2016 में उसके शौहर ने कागज पर तीन तलाक़ लिखकर उसने मायके  भेज दिया। यही से आतिया की जंग शुरू हुई। उसने 8 जनवरी 2017 को सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की।

15 फ़रवरी को सुप्रीम कोर्ट ने बाल कल्याण एवं विकास  मंत्रालय , कानून एवं न्याय मंत्रालय और अल्पसंख्यक मंत्रालय के सचिवों, दारुल उलूम देवबंद व पीड़िता के पति वाजिद अली की नोटिस जारी कर अपना पक्ष रखने को कहा। इसके बाद 21 मार्च 2017 को पुलिस ने वाजिद व सईद अहमद को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था।

17 COMMENTS

  1. … [Trackback]

    […] Read More Information here on that Topic: wiseindiantongue.com/रंग-लाया-आतिया-साबरी-का-सं/ […]

  2. … [Trackback]

    […] Here you will find 43466 additional Info to that Topic: wiseindiantongue.com/रंग-लाया-आतिया-साबरी-का-सं/ […]

  3. … [Trackback]

    […] Here you will find 26780 additional Information on that Topic: wiseindiantongue.com/रंग-लाया-आतिया-साबरी-का-सं/ […]

  4. … [Trackback]

    […] Read More Information here on that Topic: wiseindiantongue.com/रंग-लाया-आतिया-साबरी-का-सं/ […]

  5. … [Trackback]

    […] Information to that Topic: wiseindiantongue.com/रंग-लाया-आतिया-साबरी-का-सं/ […]

Comments are closed.