गुजरात के भरूच में छात्राओं को महेंदी लगाने को लेकर सजा दिए जाने से नाराज परिजनों के हंगामे के बाद निजी स्कूल ने माफी मांगी। इस मामले में स्थानीय भाजपा विधायक ने भी हस्तक्षेप किया।

घटना भरूच शहर के बाहरी इलाके वडाडाला स्थित एजेंल्स कान्वेंट स्कूल में हुई। भाजपा विधायक दुष्यंत पटेल के अनुसार स्कूल प्राचार्य ने 25 लड़कियों को हाथ पर मेंहदी लगाने को लेकर सजा के तौर पर चार घंटे बाहर खड़े रखा।

उन्होंने दावा किया कि लड़कियां सप्ताह भर चलने वाले गौरी व्रत के दौरान पारंपरिक रूप से मेंहदी लगाती हैं। यह व्रत दो दिन पहले ही समाप्त हुआ है।

सजा से नाराज कई अभिभावक आज स्कूल पहुंचे और प्रबंधन से सवाल किया। विवाद के बारे में जानकारी होने पर पटेल भी स्कूल पहुंचे और प्रबंधन से मुलाकात की।

स्कूल प्रबंधन के सदस्य बाद में बाहर आये और मीडिया और अभिभावकों से माफी मांगी और भरोसा दिया कि भविष्य में ऐसी घटना नहीं होगी।