स्कूल बस के किराए या फिर दूरी की वजह से किसी बेटी को स्कूल नहीं छोड़ना पड़ेगा। अब सरकार इन्हें निशुल्क यात्रा सुविधा मुहैया कराएगी। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल सरकारी स्कूलों में शिक्षा की गुणवत्ता बेहतर को लेकर और गंभीर हो गए हैं।

जिसके चलते उन्होंने चंडीगढ़ में गुरुवार को शिक्षामंत्री रामबिलास शर्मा व आला अफसरों की बैठक ली। बैठक में सीएम ने निर्देश दिए कि ऑनलाइन पोर्टल-स्कूल सूचना प्रबंधन प्रणाली (एसआईएमएस) पर सभी स्कूलों के शिक्षक-छात्र का नवीनतम डाटा अपलोड करने की प्रक्रिया में तेजी लाएं।

बैठक में यह भी बताया गया कि छात्रा परिवहन सुरक्षा योजना के अंतर्गत अब तक 21 हजार से अधिक छात्राओं ने आवेदन किया है। इस योजना के अंतर्गत छात्राओं को उनके घर से शैक्षणिक संस्थानों तक ले जाने के लिए निशुल्क यात्रा सुविधा करवाई जाएगी।

इस योजना के अंतर्गत प्रत्येक जिला शिक्षा अधिकारी को 10 लाख रुपये की राशि उपलब्ध करवाई गई है। पोर्टल की समीक्षा करते हुए मुख्यमंत्री ने निदेश दिए कि छात्रों और शिक्षकों का अपडेटिड डाटा, कक्षावार और सेक्शनवार भी सिंगल प्लेटफार्म पर नियमित आधार पर उपलब्ध होना चाहिए और इसकी समय-सीमा भी निर्धारित हो।