इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू का भारत दौरे के दिन भारत और इजरायल के बीच 9 समझौतों पर हस्ताक्षर हुए । हैदराबाद हाउस में पहले दोनों देशों के प्रधानमंत्रियों और प्रतिनिधिमंडल स्तर की बातचीत के बाद यह साझा बयान जारी करते हुए इन नौ समझौतों की घोषणा की गई, इनमें निवेश, रक्षा और अंतरिक्ष तकनीक को लेकर समझौता हुआ हैं।

वहीं एविएशन सेक्टर और आर्युवेद-होम्योपैथ को लेकर भी समझौता हुआ है, इसके अलावा सोलर-थर्मल तकनीक को लेकर भी दोनों देशों के बीच समझौता हुआ है,  भारत और इजरायल के बीच फिल्मों को लेकर भी समझौता हुआ है.

साझा बयान जारी करते हुए भारत के पीएम नरेंद्र मोदी ने अपने भाषण की शुरुआत हिब्रू भाषा में की, मोदी ने हिब्रू में नेतन्याहू का स्वागत किय, पीएम मोदी ने कहा कि बेंजामिन नेतन्याहू के भारत आने पर खुशी हुई, मैंने और नेतन्याहू ने अपनी दोस्ती को और गहरा किया है, हमारी कई मुद्दों पर बातचीत हुई है।

रक्षा क्षेत्र में इजरायली कंपनी को न्योता दिया गया है, उन्होंने कहा कि संबंधों की मजबूती के लिए तीन स्तरों पर काम हुआ है, दोनों देशों में उम्मीद और भरोसे की पार्टनरशिप हुई है, 25 साल की यह दोस्ती काफी अहम है।

पीएम मोदी ने कहा कि रक्षा क्षेत्र में इजरायली कंपनी को न्योता दिया गया है, अंतरिक्ष कार्यक्रम को लेकर दोनों देशों के बीच करार किए गए है,  खेती विज्ञान और तकनीक विकास के तीन स्तंभ है।

पीएम नेतन्याहू अपने साथ बड़ा बिजनेस दल लेकर आए हैं, दोनों देशों में आगे बढ़ने की ललक है,  नेतन्याहू नए साल में पहले विशेष मेहमान है, पीएम मोदी ने कहा कि गुजरात में आपकी मेजबानी करना मेरा सौभाग्य होगा।

इजरायली पीएम बेंजामिन नेतन्याहू ने पीएम मोदी ने के लिए कहा, ‘आप क्रांतिकारी नेता है उनका विजय बहुत स्पष्ट है’ भारत आना मेरे लिए ऐतिहासिक यात्रा है। हमारी सभ्यता दुनिया में सबसे पुरानी है, हमारी दोस्ती में अब कुछ नया हो रहा है।

नेतन्याहू ने कहा कि यहूदियों को भारत ने गले लगाया है। खेती को बढ़ावा देने के लिए भारत के साथ काम कर रहे हैं, हम कृषि क्षेत्र में क्रांतिकारी बदलाव चाहते है।

बेंजामिन नेतन्याहू ने हाइफा में शहीद भारतीय जवानों की शहादत को सलाम किया, उन्होंने कहा कि हम भारत के साथ स्वच्छ पानी को लेकर भी काम कर रहे हैं, उन्होंने कहा कि यह दोस्ती दोनों देशों के लिए फायदे लेकर आएगी, बेंजामिन नेतन्याहू ने कहा कि हम लड़ते लेकिन हार नहीं मानते हैं।

सोमवार को राष्ट्रपित भवन में गार्ड ऑफ ऑनर और राजघाट पर महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि देने के बाद हैदराबाद हाउस में इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू और भारत के पीएम नरेंद्र मोदी के बीच द्विपक्षीय बातचीत हुई, इसके बाद हैदराबाद हाउस में दोनों देशों के बीच प्रतिनिधिमंडल स्तर की बातचीत हुई,  इस दौरान पीएम मोदी और इजरायल के पीएम भी मौजूद रहे।

साझा बयान जारी करने से पहले दोनों देशों के बीच अहम समझौतों को लेकर हैदराबाद हाउस में दोनों प्रमुख नेताओं के बीच द्विपक्षीय और प्रतिनिधिमंडल स्तर की बातचीत हुई थी।